सावधान: प्लास्टिक के गिलास कभी मत पिये चाय, अगर नहीं माने तो कैंसर की संभावना बढ़ जाती है

331
0
सावधान: प्लास्टिक के गिलास कभी मत पिये चाय, अगर नहीं माने तो कैंसर की संभावना बढ़ जाती है

चाय लोगों के जीवन का अभिन्न हिस्सा है, चाय पीने से स्फूर्ति आती है. सुबह-सुबह एक कप चाय आपका दिन बना देती है. चाय लोग कई रूपों में पीते हैं. इसमें दूध वाली चाय, ग्रीन टी, अदरक वाली चाय, नीबू वाली चाय आदि शामिल हैं.

चाय आपके शरीर में ताजगी लाती है लेकिन इससे आपके शरीर को गहरा नुकसान भी हो सकता है. आजकल डिस्पोजल या प्लास्टिक की गिलास में चाय पीने का चलन तेजी से बढ़ा है. दुकानों में मिट्टी के कुल्हड़ मिलना लगभग बंंद हो गए हैं. अब प्लास्टिक की ही गिलासों में चाय पीने को मिलता है, लेकिन डिस्पोजल में चाय पीना इतना खतरनाक है कि इससे कैंसर तक हो सकता है.

प्लास्टिक की गिलास से हो जाएं सावधान

कहीं आप भी डिस्पोजल या थर्माकोल वाले कप में चाय तो नही पीते. भले ही डिस्पोजल का इस्तेमाल आसान होता है लेकिन रोज-रोज इसका इस्तेमाल आपकी सेहत को काफी नुकसान पहुंचा सकता है. डिस्पोजल वाले गिलास पॉली-स्टीरीन से बने होते हैं. जब हम इन डिस्पोजल्स में गरम चाय डालते हैं तो इसके कुछ तत्व चाय के साथ घुलकर हमारे पेट के भीतर चले जाते है. इससे कैंसर होने की संभावना बढ़ जाती है.

लीवर कैंसर का भी होता है ख़तरा

डिस्पोजल में गरम चाय से केमिकल लोगों के पेट में चला जाता है. डॉक्टर्स के मुताबिक, प्लास्टिक के कप में गरम चाय का लगातार सेवन करने से किडनी और लीवर के कैंसर का खतरा बढ़ जाता है. इस कप में पाए जाने वाले एसिड्स भी चाय के जरिए पेट के भीतर पहुंच जाते हैं. ये एसिड्स जाकर आंतों में जमा हो जाते हैं. इससे पाचन तंत्र प्रभावित होता है.

गर्भवती महिलाएं न लें बिल्कुल भी रिस्क

डिस्पोजल या प्लास्टिक के कप में मौजूद मेट्रोसेमिन, बिस्फीनॉल और बर्ड इथाइल डेक्सिन नाम के केमिकल्स शरीर के लिए काफी नुकसानदायक होते हैं. इससे गर्भवती महिलाओं और उनके होने वाले बच्चों पर नुकसान का खतरा ज्यादा होता है.

डिस्पोजल में चाय पीने से आती है थकान

अगर आप बार-बार डिस्पोजल की कप में चाय पीते हैं तो इससे आपको थकान, एकाग्रता में कमी, हार्मोन्स में असंतुलन आदि कई तरह की समस्याएं हो सकती हैं. डिस्पोजल या प्लास्टिक के कप से चाय बाहर न निकले इसलिए उन पर वैक्स की परत चढ़ाई जाती है. जितनी बार आप उसमें गरम चाय पीते हैं, उतनी बार वैक्स आपके पेट के अंदर जाता है. इससे आपके आंतों में दिक्कत आ सकती हैै.

आपके दिमाग को करता है कमजो़र

इनमें मौजूद केमिकल्स दिमाग की फंक्शनिंग पर भी असर डालते हैं. जिसकी वजह से इंसान की समझने और याद रखने की शक्ति कम होने लगती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here