Osho - Discourses

Filter by Creator/Author

Filter by Language

Popular Discourses

Ishavasya Upanishad

(ईशावास्योपनिषद) Ishavasya Upanishad

ईशावास्य उपनिषद की आधारभूत घोषणा: सब-कुछ परमात्मा का है। इसीलिए ईशावास्य नाम है--ईश्वर का है सब-कुछ। मन करता है मानने का कि हमारा है।...
Jeevan Ki Khoj

(जीवन की खोज) Jeevan Ki Khoj

जीवन क्या है? उस जीवन के प्रति प्यास तभी पैदा हो सकती है, जब हमें यह स्पष्ट बोध हो जाए, हमारी चेतना इस बात...

(कृष्ण स्मृति) Krishna Smriti

कृष्ण के बहुआयामी व्यक्तित्व पर प्रश्नोत्तर सहित मुंबई एवं मनाली में ओशो द्वारा दी गई 21 वार्ताओं एवं नव-संन्यास पर दिए गए एक विशेष...
कठोपनिषद ~ Kathopanishad – Hindi Discourse of Osho

(कठोपनिषद) Kathopanishad

"कठोपनिषद बहुत बार आपने पढ़ा होगा। बहुत बार कठोपनिषद के संबंध में बातें सुनी होंगी। लेकिन कठोपनिषद जितना सरल मालूम पड़ता है, उतना सरल...
Jeevan Hi Hain Prabhu

(जीवन ही हैं प्रभु) Jeevan Hi Hain Prabhu

ध्यान की गहराइयों में वह किरण आती है, वह रथ आता है द्वार पर जो कहता है: सम्राट हो तुम, परमात्मा हो तुम, प्रभु...
Hari Bolo Hari Bol

(हरि बोलौ हरि बोल) Hari Bolo Hari Bol

बोलने योग्य कुछ और है भी नहीं, न सुनने योग्य कुछ और है। बोलो तो हरि बोलो, चुप रहो तो हरि में ही चुप...
Jin Khoja Tin Paiyan

(जिन खोजा तिन पाइयां) Jin Khoja Tin Paiyan

कुंडलिनी-यात्रा पर ले चलने वाली इस अभूतपूर्व पुस्तक के कुछ विषय बिंदु: * शरीर में छिपी अनंत ऊर्जाओं को जगाने का एक आह्वान * सात चक्रों...
Jo Bole To Harikatha

(जो बोलैं तो हरिकथा) Jo Bole To Harikatha

संन्यास जीवन से विरक्ति नहीं है - जीवन को भोगने की कला है। यह पुस्तक ओशो की “जो बोलैं तो हरिकथा” के सभी प्रवचनों...
Jo Ghar Bare Aapna

(जो घर बारे आपना) Jo Ghar Bare Aapna

ध्यान साधना शिविर, आजोल में ध्यान-प्रयोगों एवं प्रश्नोत्तर सहित ओशो द्वारा दिए गए सात अमृत प्रवचनों का अपूर्व संकलन जीवन एक रहस्य है। जिसे...
Neti Neti - Sambhavnaon Ki Aahat

(नेति नेति – सम्भावनाओं की आहट) Neti Neti – Sambhavnaon Ki Aahat

मनुष्य के जीवन में जो सबसे बड़ा दुर्भाग्य है, वह शायद यही कि जीवन से उसकी आत्म-एकता, उसकी एकतानता टूट गयी है। जीवन से...